अन्य संसाधन

जलवायु परिवर्तन मुद्दों में महिला सशक्तिकरण मुद्दों को शामिल करना

जलवायु परिवर्तन मुद्दों में महिला सशक्तिकरण मुद्दों को शामिल करना

जलवायु परिवर्तन की बहस और सम्बंधित परियोजनाओं और हस्तक्षेपों में महिलाओं के विकास और उनकी विशिष्ठ समस्याओ को शामिल करना एक बड़ी आवश्यकता है. महिलायें जलवायु परिवर्तन के खारों के प्रति अधिक सुभेद्य हैं अर्थात महिलाओं पर पुरुषों की तुलना में इनका बुरा असर अधिक पड़ने वाला है.

  • नवंबर 17, 2014
  • Resources Type
    : नीति संक्षेप
Read More
जौ व जई से जलवायु परिवर्तन से निपटने का प्रयास

जौ व जई से जलवायु परिवर्तन से निपटने का प्रयास:संतोष सारंग

भारत में कृषि क्षेत्र में भी ग्लोबल वार्मिंग के खतरे से निपटने के कुछ गंभीर प्रयास किये जा रहे हैं। कुछ विशेष तरह के पेड़ पौधों और फसलों का तापमान नियंत्रित करने में बड़ा योगदान होता है. इन्हें ढूंढकर और बड़े पैमाने पर इन्हें उगाने का प्रयास एक अच्छा विकल्प बन सकता है.

  • जून 11, 2014
  • Resources Type
    : प्रकाशन
Read More

जलवायु परिवर्तन और शहरीकरण खेती में जलवायु परिवर्तन अनुकूलन के लिए सूचना...

जलवायु परिवर्तन को ध्यान में रखते हुए कृषि क्षेत्र में कौन से बदलाव किए जा सकते हैं, इसको ले कर कई विशेषज्ञ एजेंसियां स्थानीय, राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर काम कर रही हैं। जलवायु परिवर्तन अनुकूलन (एडाप्टेशन) को ले कर इनकी ओर से आंकड़े और विकल्प पेश किए जाते हैं। लेकिन खेतों में काम कर रहे स

  • जून 11, 2014
  • Resources Type
    : व्यष्टि अध्ययन, शोध अध्ययन
Read More

जलवायु परिवर्तन पर राष्ट्रीय कार्य योजना:जलवायु परिवर्तन पर प्रधानमंत्री...

भारत में दीर्घ काल से मानावजनित ग्रीन हाउस गैस उत्सर्जनो का वातावरण में संचित होने, तीव्र औद्योगिक प्रगति तथा विकसित देशो में उच्च खपत जीवन शैलियों के कारण यह ख़तरा उत्पन्न हुआ है|हालांकी भारत द्वारा अन्तर्राष्ट्रीय समुदाय के साथ मिलकर सामूहिक और सहयोगात्मक ढंग से इस खतरे का समाना करने का प्रयास क

  • जून 05, 2014
  • Resources Type
    : प्रकाशन
Read More
जलवायु परिवर्तन का मानव जीवन पर प्रभाव:आइपीसीसीसी

जलवायु परिवर्तन का मानव जीवन पर प्रभाव:आइपीसीसीसी

पृथ्वी पर हमारे जीवन के लगभग सभी अहम पहलुओं पर जलवायु परिवर्तन का असर होता है। हकीकत यह है कि ग्लोबल वार्मिंग और इससे जुड़े मुद्दों से बच निकलने का अब कोई रास्ता नहीं रह गया है। इसको ले कर चिंता बढ़ती जा रही है और विभिन्न स्तरों पर इसके अभूतपूर्व असर को साबित करने वाले साक्ष्य रोजाना सामने आते जा

  • मई 14, 2014
  • Resources Type
    : शोध अध्ययन
Read More
जलवायु परिवर्तन पर राष्ट्रीय कार्य योजना

जलवायु परिवर्तन पर राष्ट्रीय कार्य योजना

भारत में दीर्घ काल से मानावजनित ग्रीन हाउस गैस उत्सर्जनो का वातावरण में संचित होने, तीव्र औद्योगिक प्रगति तथा विकसित देशो में उच्च खपत जीवन शैलियों के कारण यह ख़तरा उत्पन्न हुआ है|हालांकी भारत द्वारा अन्तर्राष्ट्रीय समुदाय के साथ मिलकर सामूहिक और सहयोगात्मक ढंग से इस खतरे का समाना करने का प्रयास क

  • मई 14, 2014
  • Resources Type
    : प्रकाशन
Read More
जलवायु परिवर्तन के सन्दर्भ में बच्चों का अधिकारपत्र

जलवायु परिवर्तन के सन्दर्भ में बच्चों का अधिकारपत्र

जलवायु परिवर्तन, समाज में पहले से ही मौजूद कमजोर और सुभेद्य जनसंख्या को प्रभावित करेगा | इसलिए महिलाओं बच्चो और बुजुर्गों के जीवन पर इसके प्रभावों पर अधिक ध्यान देने की जरुरत है | खासकर बच्चों को लेकर इस दिशा में सबसे ज्यादा काम होना चाहिए | इस बात को ध्यान में रखते हुए "बच्चों के अधिकारपत्र" का निर्माण किया गया है |

  • मई 14, 2014
  • Resources Type
    : प्रकाशन
Read More
जलवायु परिवर्तन के भारत पर गंभीर परिणाम होंगे : वर्ल्ड बैंक

जलवायु परिवर्तन के भारत पर गंभीर परिणाम होंगे : वर्ल्ड बैंक

विश्व बैंक द्वारा करवाए गए एक महत्वपूर्ण अध्ययन के अनुसार भारत जलवायु परिवर्तन के सबसे गंभीर खतरों का सामना करेगा| निरंतर बढते तापमान और बारिश के प्रारूप में बदलाव का असर चारों ओर दिखाई देगा| हमारे जल संसाधन, खेती बागबानी, मछली पालन, परिवहन, आजीविका, स्वास्थ्य, उद्योग, सामाजिक एवं आर्थिक गतिविधिय

  • मई 14, 2014
  • Resources Type
    : शोध अध्ययन
Read More

जलवायु परिवर्तन पर मध्य प्रदेश राज्य कार्य योजना

वातावरण में तापमान की वृद्धि के लिए दुनिया भर में भौतिक और जैविक प्रणालियों में होने वाले बदलावों को महत्वपूर्ण वजह माना गया है | क्योंकि राष्ट के सतत विकास, खाद्य और आर्थिक सुरक्षा के लिए हम प्राकृतिक संसाधनों पर ही निर्भर रहते है, जिससे जलवायु परिवर्तन पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है |

  • फ़रवरी 08, 2014
  • Resources Type
    : शोध अध्ययन
Read More