मध्य प्रदेश राज्य जलवायु परिवर्तन कार्य योजना - मध्य प्रदेश का जलवायु विज्ञान

राज्य के जलवायु विज्ञान से संबंधित अहम पहलुओं पर प्रकाश डालने के लिए मध्य प्रदेश जलवायु परिवर्तन राज्य कार्य योजना के तहत यह पुस्तिका तैयार की गई है।

राज्य जलवायु परिवर्तन ज्ञान प्रबंधन केंद्र (एससीसीकेएमसी) ने वर्षा, तापमान आदि जलवायु के विभिन्न पहलुओं पर राज्य की मौजूदा स्थिति के साथ ही वैज्ञानिक अनुमान पर आधारित भविष्य की संभावनाओं को भी संक्षेप में यहां पेश किया है। इस तरह यह लघु पुस्तिका मध्य प्रदेश के जलवायु परिवर्तन के बारे में संक्षिप्त जानकारी बहुत आसानी से लोगों के सामने रखती है। 

इसमें जलवायु परिवर्तन को ले कर राज्य की संवेदनशीलता (वल्नरेबलिटी) के बारे में भी बताया गया है। राज्य के कुछ हिस्सों में हरेक साल सूखे का सामना करना पड़ रहा है। इससे ना सिर्फ लोगों की आजीविका प्रभावित हो रही है, बल्कि उस क्षेत्र की अर्थव्यवस्था पर भी इसका गंभीर प्रभाव पड़ रहा है।

गरीबी और संसाधनों की कमी का पहले से ही दबाव झेल रहे राज्य को इस चुनौती का सामना करने के लिए तुरंत जुटना होगा। इसके मुताबिक राज्य के 50 में से 12  जिले जलवायु परिवर्तन को ले कर बहुत संवेदनशील स्थिति में हैं। 

मध्य प्रदेश के जलवायु विज्ञान के प्रमुख बिंदुओं पर यह लघु पुस्तिका अंग्रेजी में पढ़ने के लिए पीडीएफ यहां से डाउनलोड करें:

अनुलग्नक:
संसाधन प्रकार:प्रकाशन
प्रकाशित तिथि:मई 31, 2014
सभी चित्र को देखें
मध्य प्रदेश राज्य जलवायु परिवर्तन कार्य योजना - मध्य प्रदेश का जलवायु विज्ञान