भारत में बदलाव के प्रेरक

सीडीकेएन के सहयोगी संस्थान ‘सीड्स’ ने लेह जिले के एक गांव में जलवायु परिवर्तन से पैदा हो रही चुनौतियों को बहुत प्रभावशाली तरीके से पेश किया है। वर्ष 2010 में अचानक आई बाढ़ ने यहां ना सिर्फ ढांचागत सुविधाओं का भारी नुकसान किया था, बल्कि बहुत सी जानें भी गई थीं।

इस फोटो फीचर में दिखाया गया है कि इस हादसे के बाद यहां पुनर्निर्माण के लिए किस तरह की साझेदारी की गई, उसके लिए कैसे शोध किया गया, कैसे योजना बनाई गई और फिर उसे कैसे अमल में लाया गया।

इसमें शानदार तस्वीरों के साथ एक पंक्ति के छोटे परिचय के जरिए ही सारी बात कही गई है। इस प्रोजेक्ट के बारे में लोगों को जानकारी देने के लिहाज से यह फोटो फीचर बेहद कामयाब साबित होता है।

पूरा फोटो फीचर देखने के लिए यहां क्लिक करें|

Themes: