जलवायु परिवर्तन से निपटती महिलाएं

ओडिशा के पुरी जिले में साल-दर-साल बारिश को ले कर अनिश्चितता बढ़ती जा रही है। कभी खूब बारिश तो कभी बिल्कुल नहीं। इस तटीय राज्य के लोगों को बारिश के दिनों में अक्सर लंबे समय तक जल भराव की स्थिति का सामना करना पड़ता है।

जबकि बारिश के जाने के बाद पानी की कमी झेलनी पड़ती है। मौसम की इस मार का सबसे ज्यादा शिकार होती हैं महिलाएं। पीने के साफ पानी के लिए उन्हें काफी दूर जाना होता है। बच्चे बीमार पड़ जाते हैं। कभी उल्टी-दस्त तो कभी त्वचा संबंधी बीमारियां। यूएनडीपी और ओडिशा सरकार ने आपसी साझेदारी में पुरी जिले के लोगों के लिए एक कार्यक्रम शुरू किया है।

आस्ट्रेलियन एजेंसी फार इंटरनेशनल डेवलपमेंट के सहयोग से शुरू किए गए इस प्रोजेक्ट में स्थानीय समुदाय को मौसम की मार से जूझने में सक्षम बनाया जा रहा है। लोगों को बरसात के मौसम में जल संरक्षण के लिए ना सिर्फ प्रेरित किया जा रहा है, बल्कि इसके तरीके भी सिखाए जा रहे हैं।

इस बारे में अंग्रेजी में अधिक जानकारी के लिये यहाँ क्लिक करें|

Themes: